Tuesday, 4 September 2018

Sarvepalli Radhakrishnan Teachers Day Quotes

प सभी को अच्छी तरहां से पता है पूरे भारत में शिक्षक दिवस [ Teachers Day ] मनाया जाता है. यह दिन डॉ सर्वपल्ली राधाक्रष्षन के जन्मदिन को लेकर शिक्षक दिवस के रूप में भारत के कोने -2 में बडे उत्साह से स्कूलों और कॉलेज में मनाया जाता है.


" सर्वप्लली जी अक्सर बोलते थे की स्कूल का शिक्षक  शिक्षक ही नही होता बलकि जिस इंन्सान से आपको कुछ भी सीखने के लिए मिल जाऐ वही आपका शिक्षक कहलाता है."   


Teacher मोमबत्ती की रौशनी की 
तरहा होता है जो हम को चलने
का रास्ता दिखता है
Have a wonderful
Teachers Day


Teacher Candal Ki Tarahaa 
Hota Hai Jo Hum ko 
Chalna Ka Rasta Dikhata
Hai. Have a wonderful Teachers Day 

    

My Dear Teacher में आज जिस मुकाम पर 
हु उस की लिए आप का Thanks. 
Happy  Teachers Day

My Dear Teacher aaj me jis mukaam 
pr hu us ke liya aap ka 
Thanks, Happy Teachers Day.  



       


आप  की बजा से मेने एक सूंदर Future का निर्माण किया 
में दिल से आप को  कोटि कोटि परनाम करता हु.

App ki baja se mene ek sunder 
Future ka nirmaan 
kiya me Dil se aap ko koti koti 
parnaam karta  hu.


     

मेरी तरफ से मेरे शिक्षक को Teacher दिवस की 
बधाई हो जिस ने मुझे मंदबुदि अकल्मन्द इन्सान बनया। 

Meri Taraf se Teachers ko Teachers Day ki 
badhiya Ho  jis ne muje 
mandbudhi se akalmand 
ensaan banaaya.



                        

मेने आप से Hindi Punjabi English 
Math Urdu History सभी को सीखा 
मेरा परनाम स्वीकार करे.

mene aap  se HIndi Punjabi English 
Math Urdu History sabi ko seekha  mera 
parnaam savikaar kare 


          

मेने गलत पढ़ा आप ने सही बतया 
मेरे परनाम स्वीकार करे मेरे प्रिय गुरु।

mene galat padha aapane 
sahi bataya mere pranam 
sveekaar kare mere priy guru.
                     



मेरे अंदर जिज्ञासा का दिया जगाया 
मुझे हिमंत दी मुझे सलफता का रास्ता बताया 
आप को परनाम करता हु गुरुदेव 

mere andar jigyaasa ka diya 
jagaaya mujhe himant dee 
mujhe salaphata ka raasta 
bataaya aap ko paranaam 
karata hu gurudev



Sarvepalli Radhakrishnan heart touching Quotes.


दुनियां में भगवान की पूजा नही की जाती है 
यहां पर लोग भगवान को छोड कर उनकी
पूजा करते है जो अपने आपको भगवान 
कहते है।

Duniay me Bhagwan ki pooja nahi ki jati 

yehaa pr log bhagwaan ko chod kar
pooja karte hai jo apne aap ko Bhagwaan
khate Hai.




टीचर उसको नही कहा जा सकता है
जो छात्र के दिमाग में किताबी शब्दों को
ठोस - ठोस कर भरे असल में टीचर उसको 
माना जाता है जो उसको आने वाले समय 
की जुनोैतियों को लिए त्यौर करता है।


Teacher us ko nahi kaha ja sakta 

chhatar ke demag me kitabi sabdo 
ko thos thos kar bhare asal me 
Teacher us ko mante hai jo us kko 
ane vale samay ki chunotiya ke 
liy tiyaar karta hai.




पुस्तकें आपके आने वाले कल

का मागर दरर्श करती है।

Books apke ane vale kal 

ka marg darshan karti hai 




पुस्तकें के तकनीकी ज्ञान से हट कर 

हमें आत्मा की महनता को हासिल करने 
का जतन करना चहिऐ।


Books ke takniki giyan se 

haat kar hame atma ki mahaanta 
ko hasal karne ka jathan karna hoga 




पुस्तकें के माथियम से ही हम 

आने वाले कल के लिए तैयार होते है।

pustak ki jariy hum 

ane vale kal ke liye 
tiyaar hote hai 




जो टीचर हमारे आने वाले कल 

के लिए हमें तैयार कर रहा है
वो आपके माता पिता के समान
होता है।


jo teacher humare ane vale kal 

ke liy hume tiyaar karta hai 
bo aapke pita ke smaan hota hai 




आप कितना जोर लगा लेना 

शांति कभी भी आर्थिक बदलाव से 
नही आ सकती है हमारे सभी 
के स्वभाव में बदलाव करने पर 
आऐगी।

aap kitna jor lagalo shanti 

kabhi bhi ardhik badlav se 
nahi aa sakti humare sabhi ke  
nature me badlav karne par ayegi 




------------------

प्रिय मित्रों आपको हमारे दुबारा लिखी यह रचना [ rachna ] कैसी लगी हमें आप के जवाब का इंतजार रहेगा और अगर आपको अच्छी [ Achi ] लगी तो हम आपसे बनेती करते है की एक comments जरूर करें दिल को खुशी होती है और आपके दुबारा किऐ comments हमको और अच्छा लिखने की ताकत देते है। 

List of Top Punjabi Funny Desi Status and Comments for WhatsApp Facebook Sharechat Instagram youtube video.






sachi baatein in hindi | sachi baatein status in hindi | sachi baatein in images hindi | punjabi status bebe bapu | shikshak diwas shayari in hindi | vishwa shikshak diwas kab manaya jata hai | 5 september shikshak diwas | shikshak diwas par bhashan

0 comments: